Your cart is empty

स्त्री-पुरुष सहजीवन - दादा धर्माधिकारी

₹40.00

स्त्री को सहजीवन की धुरी मानकर दादा ने इस पुस्तक में स्त्री-पुरुष सहजीवन-सम्बन्धी मूलगामी प्रश्नों का विवेचन किया है। स्त्री-पुरुष में तुल्य सत्त्व, स्त्री-पुरुष की धन्यता, फ्रायड का तत्त्वज्ञान, सौन्दर्य मीमांसा, भक्तियुग सख्य-भावना, माता-पिता की सांस्कृतिक भूमिका आदि  विषयों पर दादा के सारगर्भित विचार प्रेरक और पठनीय हैं।

Pages: 144 Size: Crown ISBN: 9789383982097

Add to Cart:


This product was added to our catalog on Tuesday 28 May, 2013.