Your cart is empty

बापू-कथा (1920-1948) - हरिभाऊ उपाध्याय

₹60.00

सुप्रसिद्ध गांधीवादी विचारक स्व. हरिभाऊ उपाध्यायजी ने हजारों पृष्ठों का पारायण कर गांधी अमृत-सागर का मंथन करते हुए बापू-कथा रूपी नवनीत उपस्थित किया। गांधी-विचार सम्पदा का दिग्दर्शन कराने हेतु यह पुस्तक एक महत्त्वपूर्ण कड़ी है।

पृष्ठ : 261
आकार
: क्राउन

Add to Cart:


This product was added to our catalog on Sunday 19 May, 2013.